benefit of moong in hindi

benefit of moong in hindi

 क्‍या आप भी खाते हैं साबुत मूंग दाल- जानें इसके अदभुत फायदे

अपने शरीर को फौलाद बनाये- मूंग खाने के इतने जबरदस्‍त फायदे



मूंग खाने के इनते जबरदस्‍त फायदे जो आपको काजू बादाम या फिर पिस्‍ता भी नहीं दे पाएगा। इस इसे खाने का यह तरीका पता होना चाहिए। नॉन वेज और अंडे से भी 10 गुना ज्‍यादा ताकतवर है मूंग। हर एक व्‍यक्ति जो स्‍वस्‍थ है उसे अगर आप पूछेगें कि आपकी सेहत का राज क्‍या है तो वह आपको नॉन वेज, अंडा या फिर ड्राई फ्रूट खाने की सलाह जरूर देगा। लेकिन अगर आप मूंग को सही तरीके से खाने का तरीका जान जाएगें तो यह आपके लिए नॉन वेज या ड्राई फ्रूट से भी कहीं ज्‍यादा पौष्टिक रहेगा। और आपको ज्‍यादा से ज्‍यादा फायदा पहुंचाएगा। 150 ग्राम नॉन वेज अगर आप खायेगें तो इसमें आपको 19 प्रतिशत प्रोटीन मिलेगा। वहीं अगर आप 150 ग्राम मूंग खायेगें तो इसमें आपको 25 प्रतिशत प्रोटीन मिलेगा। मूंग में बहुत से विटामिंस और मिनरल्‍स पाए जाते हैं जो कि आपको किसी भी ड्राइ फ्रूट में नहीं मिलेगें। यह पौष्टिक चीजे आपको नॉन वेज में मिल ही नहीं सकती। मूंग आपको कैसे खाना है? किस समय खाना है? और क्‍या है इसका और भी ज्‍यादा पौष्टिक बनाने का तरीका? आइये जानते हैं-

सबसे पहले आपको दो मुटठी मूंग लेना है और इसे खाली कटोरी में डाल लेना है। अब इसे हम पानी से भिगोएगें। पानी आपको इतना डालना है कि मूंग इसमें अच्‍छे से भीग जाए। कमजोर शरीर में थकान, आलस, कमजोर आंखे, खराब पाचन, शक्ति खून की कमी और कमजोर दिमाग के लिए मूंग सबसे जबरदस्‍त फूड है। क्‍योंकि इसमें प्रोटीन के साथ ही साथ और भी दूसरे मल्‍टीविटामिन और मल्‍टीमिनरल बहुत ही ज्‍यादा होते हैं। तो जो लोग मसल्‍स बनाना चाहते हैं अपने शरीर को गुड शेप देना चाहते हैं। मजबूत बॉडी बनाना चाहते हैं उनके लिए यह बेहद ही जबरदस्‍त फूड है।  

मूंग नॉन वेज से कही ज्‍यादा जल्‍दी पच जाता है। इसे पचाना आसान होता है। यह हमारे पेट को स्‍वस्‍थ रखता है। भीगे हुए मूंग पेट से जुडी बीमारी को दूर करता है। यह सब सुबह के समय ब्रेकफास्‍ट में खाये गये दो मुटठी भीगे हुए मूंग से ही समाप्‍त हो जाती है। क्‍योंकि इसमें आयरन कॉपर बहुत ज्‍यादा होता है। तो इस वजह से खून की कमी नहीं होती है। जोडों में दर्द की समस्‍या भीगी हुई मूंग खाने वाले लोगों के शरीर से दूर ही रहती है।

भीगी हुई मूंग में विटामिन-ए और विटामिन-सी बहुत ही ज्‍यादा मात्रा में होता है। जिससे कि आपका इम्‍यून सिस्‍टम अच्‍छा रहता है। अगर आपका इम्‍यून सिस्‍टम अच्‍छा रहेगा तो आप बार-बार बीमार नहीं पड़ेगें। विटामिन-ए की वजह से यह हमारी आंखों के लिए बहुत ही ज्‍यादा फायदेमंद है। सप्‍ताह में 5 दिन भीगी हुई मूंग खाने से हमारी आंखों की रोशनी तेज होती है। ओमेगा-3 फैटी एसिड और इसके साथ ही गुड़ कोलेस्‍ट्रॉल होने की वजह से यह हमारे हार्ट को स्‍वस्‍थ रखता है। दिल की बीमारी होने का खतरा भीगी हुई मूंग खाने वालों को नहीं होता है। त्‍वचा पर झुर्रिया, डल चेहरा, समय से पहले सफेद बाल, बालों का झ़डना सिर्फ दो मुटठी भीगी हुई मूंग सुबह के समय नाश्‍ते में खाने से दूर हो जाती हैं।

मूंग को आपको खाना कैसे है? कि आपको इससे काजू, बादाम, पिस्‍ता या फिर नॉन वेज से कहीं ज्‍यादा फायदा मिल पाए?

मार्केट से आपको छिलके वाली मूंग लानी है ध्‍यान रखें कि आपको मूंग की दाल नहीं लेना है आपको साबुत मूंग ही लेना है। इसे आपको दो मुटठी रात को भिगो देना है और सुबह आपको इसे नाश्‍ते में खाना है। इसके साथ ही साथ आपको लेना है एक मुटठी किशमिश। किशमिश को भी आप रात में भी भिगो सकते हैं या फिर आप ड्राई किशमिश का भी सेवन कर सकते हैं।

मूंग के साथ किशमिश खाने से आपको इससे ओर भी ज्‍यादा फायदा मिलेगा। 5 दिन में ही यह आपको नॉन वेज या किसी भी ड्राई फ्रूट से ज्‍यादा फायदा पहुंचाएगा। आपके शरीर को ताकत से भरपूर कर देगा। अकुंरण की गयी मूंग भीगी हुई मूंग से भी ज्‍यादा पौष्टिक होती है। इसमें मल्‍टीविटामिन और मल्‍टीमिनरल भी बहुत ज्‍यादा होते हैं। बिना अंकुरण की गयी 150 ग्राम मूंग में जहां 25 प्रतिशत प्रोटीन होता है वहीं अंकुरण की गयी मूंग में 30 प्रतिशत प्रोटीन होता है। इसके साथ ही दूध से मिलने वाला जरूरी पोषक तत्‍व भी इसमें आ जाता है। दूध न पीने वालों की शरीर में दूध की पूर्ति भी अंकुर से हो जाता है। शुगर के मरीजों के लिए अंकुरण की गयी मूंग बेहद ही फायदेमंद होती है। अंकुरण की गयी मूंग ब्‍लड शुगर को भी कम करती है। तो मूंग दाल के इतने फायदे होने के कारण आप भी हफते में 2-3 बार मूंग दाल को अपने आहार में जरूर शामिल करें।

Post a Comment

0 Comments